Home » Dharti Mera Ghar by Rangeya Raghav
Dharti Mera Ghar Rangeya Raghav

Dharti Mera Ghar

Rangeya Raghav

Published 2010
ISBN : 9788170288435
Enter the sum

 About the Book 

सवयं को महाराणा परताप का वंशज मानने वाले गाडरिये-लुहारों के जीवन चरित पर आधारित हैi रांगेय राघव का यह उपनयास । आज के परगतिशील युग में भी गाहियेषणुजञार आधुनिकता से कोसों दूर अपने ही सिदधांतों, आदरश: और जीवन मूलयों पर चलते है। कभी यर बनाकर न रहने वाले,Moreस्वयं को महाराणा प्रताप का वंशज मानने वाले गाड्रिये-लुहारों के जीवन चरित पर आधारित हैi रांगेय राघव का यह उपन्यास । आज के प्रगतिशील युग में भी गाहियेष्णुज्ञार आधुनिकता से कोसों दूर अपने ही सिद्धांतों, आदर्श: और जीवन मूल्यों पर चलते है। कभी यर बनाकर न रहने वाले, खानाबदोशों की तरह जीवन यापन करने वाले और समाज से अलग रहने वाले इन याहियेन्तुज्ञारों के जीवन के अनछुए और अनदेखे पहलुओं का जैसा सजीव वर्णन इस उपन्यास में हुआ है, वह रांगेय राघव जैसा मानव मनोभावों का चितेरा लेखक ही कर सकता है।